27 C
Guwahati
Wednesday, June 29, 2022
More

    फिक्की फ़्लो कोलकाता चैप्टर के हेल्थ सेशन में यूके के डॉक्टर ने लीवर पर दी अहम जानकारियां

    कोलकाता: (Kolkata) फिक्की फ़्लो कोलकाता चैप्टर की ओर से आयोजित कार्यक्रम ट्रांसफॉर्मिंग लाइव्स में यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के हेपेटोलॉजी प्रोफेसर डॉ. राजीव जालान ने मानव लीवर के बारे में कई महत्वपूर्ण बातें बताईं. डॉ. राजीव जालान एक विश्व-प्रसिद्ध हेपेटोलॉजिस्ट हैं. इस सेशन में उन्होंने वहां मौजूद लोगों से कहा कि “अपने लीवर के बारे में ऐसे सोचा करें कि वह आपका ‘जिगरी’  (आपके सबसे अच्छे दोस्त) है और इसकी देखभाल करें”. उन्होंने अपनी कंपनी द्वारा विकसित की जा रही दो दवाओं के बारे में भी बताया, जो परीक्षण के दूसरे चरण में हैं और जल्द ही लीवर से जुड़ी बीमारियों के लिए लांच की जाएगी.

    फिक्की फ्लो कोलकाता चैप्टर की चेयरपर्सन श्रीमती सुनीरा चमारिया ने वुडलैंड मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल की एमडी और सीईओ डॉ. राजीव जालान और डॉ. रूपाली बसु को इंट्रोड्यूस करवाया. उन्होंने कहा, “लिवर को वह महत्व नहीं दिया जा रहा, जितना कि यह जरूरी है”. अपनी कंपनी के बारे में बात करते हुए डॉ. जालान ने कहा कि उनका उद्देश्य लीवर की बीमारियों वाले रोगियों के लिए एंड-टू-एंड समाधान प्रदान करना है, जो कि बीमारी की नई समझ पर आधारित है.

    डॉ. जालान ने कहा कि लीवर से जुड़ी बीमारियों के प्रमुख कारण शराब, फैट और वायरस हैं. इन सभी को अनुशासन में रह कर स्वस्थ आदतों और जब भी आवश्यक हो, दवा के साथ कंट्रोल किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि लीवर इतना महत्वपूर्ण है कि अगर ठीक से काम करना बंद कर दे तो शरीर के दूसरे अंगों को भी समस्या होने लगती है. अगर लिवर स्वस्थ है, तो शरीर स्वस्थ रहता है.  

    ये भी पढ़ें: शाजिया इल्मी ने अकबर अहमद डंपी पर बदसलूकी का लगाया आरोप, केस दर्ज

    डॉ. जालान ने लीवर से जुड़ी बीमारियों के प्रकार पर प्रकाश डालते हुए कहा कि अधिकांश बीमारियों को ठीक किया जा सकता है बस उनका पता चल जाए। उन्होंने कहा “आपको अगर अपने लीवर के बारे में जानना है कि यह फंक्शन सही से कर रहा है या नहीं तो, इसका एकमात्र तरीका है कि ब्लड प्रेशर, सुगर और ब्लड टेस्ट, लीवर स्कैन और मेडिकल चेकअप नियमित रूप से करवाएं।”

    ये भी पढ़ें: उन्नाव कांड के राज से हुआ पर्दाफाश, पुलिस के मुखबिर से पकड़ा गया आरोपी

    यह पूछे जाने पर कि उन्होंने लंदन का रुख क्यों किया और भारत नहीं लौटे, तो  जालान ने जवाब दिया कि मैं कभी यूनाइटेड किंगडम में नहीं रहना चाहता था. मैं अमेरिका जाना चाहता था और वहां से भारत वापस आना चाहता था, लेकिन लगातार ऐसी परिस्थियां बनती गईं और भारत भी उस समय तैयार नहीं था. वहीं फिक्की फ्लो कोलकाता चैप्टर की सीनियर वाइस चेयरपर्सन सुश्री मंजरी अग्रवाल ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए सत्र का समापन किया. उन्होंने अन्य भागीदारों के साथ फिक्की फ़्लो के सदस्यों, भागीदारों, इवेंट कोऑर्डिनेटरों और लीड प्रायोजक दामोदर रोपवे और इंफ्रा लिमिटेड का भी धन्यवाद किया.

    Published:

    Follow TIME8.IN on TWITTER, INSTAGRAM, FACEBOOK and on YOUTUBE to stay in the know with what’s happening in the world around you – in real time

    First published

    ट्रेंडिंग