27 C
Guwahati
Sunday, June 26, 2022
More

    BJP पार्षद ने बेरहमी से छात्र को पीटा,स्कूली बच्चों को गालियां देते हुआ ऑडियो वायरल

    रायपुर। रायपुर नगर निगम उपनेता प्रतिपक्ष मनोज वर्मा पर एक स्कूली छात्र के साथ मारपीट का आरोप लगा है सूत्रों के अनुसार मनोज वर्मा ने रावणभाठा मैदान में बच्चे की बेरहमी के साथ बांस से पिटाई की और मारपीट के बाद बच्चे की मां और पिता से अभद्र व्यवहार किया। इस संदर्भ में भाजपा पार्षद मनोज वर्मा की बच्चे के माता पिता से बातचीत हुई और इस बातचीत का आडियो वायरल हो रहा है। वायरल आडियो में मनोज वर्मा बच्चे के माता पिता से अभद्रता पूर्वक बात कर रहे हैं और बच्चे के पैर तोड़ देने की धमकी दे रहे हैं।

    मनोज वर्मा की ये हरकत शर्मनाक

    घटना 9 अक्टूबर की दोपहर रावणभाटा दशहरा मैदान की है। मठपुरैना में रहने वाला 12वीं का छात्र दीपक चक्रधारी स्कूल से छुट्‌टी होने पर अपने दोस्तों हर्षल सिंह और दुष्यंत साहू के साथ लौट रहा था। मैदान के पास पहुंचकर तीनों हंसी मजाक करने लगे। इतने में मैदान में दशहरा कार्यक्रम की तैयारी में जुटे पार्षद मनोज वर्मा ने तीनों को देखा और करीब आकर कहने लगा- तुम लोग यहां आकर गुंडागर्दी कर रहे हो, ये दशहरा मैदान है। मैं यहां का अध्यक्ष हूं। इसके बाद पार्षद ने लड़कों को गालियां देना शुरू कर दिया। इस मामले में पीड़ित परिवार से मिलने आए कांग्रेसी नेताओं ने मनोज वर्मा पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है उपनेता प्रतिपक्ष की हरकतों को शर्मनाक बताया है । मनोज वर्मा ने दीपक की मां से बात करते हुए कहा- तुम्हारा लड़का अगर दोबारा रावणभाठा मैदान में दिखा तो मै टांग तोड़ दूंगा। दीपक के परिजन का दावा है कि घटना के बाद परिवार डर गया था, मगर धमकियों से तंग आकर अब पार्षद के खिलाफ शिकायत की है।

    मनोज वर्मा ने माफ़ी मांगने से किया इंकार

    इधर, मनोज वर्मा ने इस मामले को राजनीति से प्रेरित बताते हुए मामले में माफी मांगने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि बच्चों को समझाने के लिए उन्होंने ऐसा किया, जिस पर उनकी दलिल भी काफी अजीब है। भले ही मनोज वर्मा ये कहें कि उन्होंने केवल थप्पड़ ही मारा है लेकिन हकीकत क्या है, ये तो तस्वीरें खुद ही बयां कर रही है. हैरानी की बात ये है कि इस घटना के बाद भी उन्हें अपने किये का ज़रा भी अफसोस नहीं है.कांग्रेस के सुशील आनंद शुक्ला ने कहा बच्चे व परिजनों से इस तरह का व्यवहार निंदनीय है। पीड़ित परिवार को पुलिस में शिकायत दर्ज करानी चाहिए। प्रदेश में कानून का राज है। कोई कितना भी रसूखदार क्यों न हो यदि गलत है, तो कार्यवाही की जाएगी।

    Published:

    Follow TIME8.IN on TWITTER, INSTAGRAM, FACEBOOK and on YOUTUBE to stay in the know with what’s happening in the world around you – in real time

    First published

    ट्रेंडिंग